14
7
-
No icon

HIGH LEVEL OF POLLUTION IN AIR

*दिल्ली में प्रदुषण लेवल नापने की मशीने हुई फेल* , अगले 3 - 4 दिन बेहद खतरनाक  दिल्ली और हरियाणा में *कंस्ट्रक्शन का काम रोका गया*  *जालंधर में भी धूल का गुब्बार* , डॉक्टरों के मुताबिक़ कुछ घंटे बाहर सांस लेने से अस्थमा का खतरा 

8

 

ब्यूरो रिपोर्ट 

धूल के गुबार से परेशान दिल्ली-एनसीआर में हालात गंभीर बने हुए हैं | आपको बता दे की पिछले कई दिनों से दिल्ली में कई जगह तो प्रदूषण का स्तर इतना बढ़ गया है कि यहां प्रदूषण नापने की मशीन भी फेल हो गई और यहाँ एयर इंडेक्स 431 दर्ज हुआ है | दिल्ली में ही नहीं पंजाब और हरियाणा में भी अगले तीन दिन बेहद खतरनाक माने जा रहे हैं , क्योंकि अगले तीन दिन तक पीएम 10 का स्तर खतरनाक लेवल पर बना रहेगा | ग्रेटर नॉएडा में  एयर इंडेक्स 500 रहा , जबकि गुडगांव में 485, नोएडा में 390, गाजियाबाद में 384 और फरीदाबाद में 317 एयर इंडेक्स दर्ज हुआ |

अनुमानित , फिलहाल 17 - 19  जून तक दिल्ली में सभी तरह की कंस्ट्रक्शन एक्टिविटी पर रोक लगा दी गई है और नगर निगम और पीडब्ल्यूडी सड़कों की सफाई मैकेनिकल मशीनों से करेंगे | मुख्य सड़कों पर झाडू नहीं लगाई जाएगी | सेंट्रल वर्ज और सड़क के किनारों पर पानी का छिड़काव किया जाएगा | नोएडा, गाजियाबाद में भी ऐसे ही उपायों का ऐलान किया गया है | 

बात करे हरियाणा की तो वहाँ भी 24 घंटों के लिए कंस्ट्रक्शन के काम पर रोक लगा दी गई है | वहीं, चंडीगढ़ में पूअर विसिबिलिटी के कारण इंडिगो और जेट एयरवेज ने फ्लाइट कैंसिल कर दी है | जालंधर सहित पंजाब के कई शहरो में धूल का गुब्बार बढ़ता जा रहा है मगर यहाँ लीगल तो क्या इललीगल कंस्ट्रक्शंस भी माहि रुक रही , हालांकि बीते दिन निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के आंधिस्तरीय दौरे ने अफसरों को तो उड़ा दिया है पर अवैध बिल्डिंग बनाने वालो पर सख्त कार्यवाही नहीं की गयी है | 

अगर बात करे इस धूल भरे वातावरण की तो इस मामले में डॉक्टर्स का कहना है कि दिल्ली की हवा में धुल के कणों का स्तर इतना अधिक है कि अगर कोई सामान्य इंसान पांच घंटे भी हवा में सांस ले तो उसमें अस्थमा के लक्षण नजर आने लगेंगे | यही लक्षण पंजाब के जालंधर शहर में किसी हद्द तक नज़र आ सकते है अगर इसी तरह का वातावरण रहा और सरकार ने इसके लिए कुछ ठोस कदम नहीं उठाये तो | 

9

Comment

10