14
7
No icon

LOVELY PROFESSIONAL UNIVERSITY

मशहूर लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी के छात्रों का फूटा गुस्से का ज्वालामुखी  महिला जज ने पहुंच सुनी छात्रों की आपबीती , किसी तरह से किया जाता है परेशान  देखे पूरी वीडियो - आखिर किस तरह से किया जाता है छात्रों को परेशान 

8

 

ब्यूरो रिपोर्ट 

CLICK AND WATCH FULL VIDEO

फगवाड़ा की यूनिवर्सिटी एलपीयू के अंदर और बाहर सब कुछ ठीक नहीं है. अफसरों को न बाहर कुछ दिखा और न अंदर. मगर कपूरथला की स्थायी लोक अदालत की चेयमैन जस्टिस मंजू राणा मिसाल बन गई.

पहले साल तो छात्रों को लुभाया जाता है | मन मर्ज़ी का मिलेगा खाना , अपने वाहन ला सकते है अंदर , छात्रों और स्टाफ और पेरेंट्स के लिए यूनिवर्सिटी के अंदर चलती है बसे जो की आपको अंदर कई किलोमीटर तक लाती और वापस छोड़ती है | हर स्टूडेंट के लिए एक स्टाफ मौजूद जो की ु की हर चीज़ में हेल्प करेगा , उनकी फीस भी खुद ही जाकर स्टाफ जमा कर देता है और ऐसे कई काम जिससे स्टूडेंट्स को लुभाया जाता है | 

मगर जैसे ही यूनिवर्सिटी का अड्मिशन सेशन ख़त्म होता है , ये सब लुभावनी चीज़े भी ख़त्म हो जाती है | ये इलज़ाम खुद स्टूडेंट्स ने लगाए | 

  एलपीयू के छात्रों से बात की तो पता चला कि एलपीयू में छात्रों के वाहनों की एंट्री नहीं. अंदर खानपान भी महंगे दाम पर है. बाहर आकर अगर वो वाहन खड़े करते है तो खोके और दूकान वाले मोटे दाम वसूलते है | छात्रों को कई किलोमीटर तक रोज़ पैदल चलना पड़ता है | चाहे धुप और या बारिश या मौसम कोई भी हो या कोई सोशल प्रॉब्लम हो अगर टाइम पर क्लास नहीं पहुंचते तो अटेंडेंस काट जाती है |  आप खुद ही वीडियो में देखें एलपीयू में सब कुछ ठीक नहीं. 

एलपीयू के बाहर अवैध रूप से बस स्टैंड बन गया था जो  नेशनल हाइवे कानून की धज्जियां उड़ा रहा था मगर अफसर आंखें मूंदे बैठे थे. फिर क्या था जब अफसरों को खुली आंखों से नहीं दिखा तो आंखों पर पट्टी बांधे कानून का रखवाला बन कर जस्टिस मंजू राणा एलपीयू पहुंची. मौके पर ही अफसर बुलाए 76 बसों के चालान करवाये.

फिलहाल एलपीयू का पक्ष सामने नहीं आया. यदि अभी भी एलपीयू अपना पक्ष रखना चाहे तो वो हमसे संपर्क कर अपना पक्ष रख सकता है उसे भी प्रमुखता से दिखाया जायेगा.
संपर्क करें - 9876000954

9

Comment

10